Total Pageviews

Thursday 8 December 2011

‘दिलीप अश्क स्मृति सम्मान 2011




प्रिय मित्रो


हमें यह घोषणा करते हुए हर्ष हो रहा है कि ‘दिलीप अश्क स्मृति सम्मान 2011’ इस बार सम्मिलित रूप से युवा रचनाकाररजनी अनुरागी और मुकुल सरल को दिया जा रहा है।

हमारे लिये इस बात का निर्णय लेना बहुत ही मुश्किल था कि प्रस्तावित नामों में से ये पुरस्कार किसे दिया जाये। जिन युवा कवियों के नाम प्रस्तावित किए गए हमारी नज़र में वे सभी बहुत ही प्रतिभावान कवि हैं। यह माना गया कि एक दलित कवि के नाम पर शुरू हुए इस पुरस्कार के लिये श्रेष्ठता का कोई पैमाना बनाना पूरे दलित समाज के ख़िलाफ़ जाना है। इस पुरस्कार का पैमाना स्वीकृति और प्रोत्साहन का पैमाना है। इस पुरस्कार के ज़रिए युवा कवियों की रचनाशीलता को को स्वीकृत करना और उन्हें प्रोत्साहित करना ही इस पुरस्कार का मुख्य मकसद है।
यह पुरस्कार किसी एक ही कवि को देने की घोषणा हुई थी लेकिन इस पूरी प्रक्रिया में हमने यह समझा कि यह पुरस्कार परंपरागत ढ़ंग से दिये जाने वाला पुरस्कार नहीं है। यह एक भिन्न किस्म का पुरस्कार है। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान हमें यह जरूरी लगा कि यह पुरस्कार एक पुरुष कवि और एक स्त्री कवि को दिया जाना चाहिए। इसी समझ के तहत  इस वर्ष का पुरस्कार रजनी अनुरागी और मुकुल सरल को दिया जा रहा हैं।  आशा है कि साहित्यिक और बौद्धिक जगत में हमारे निर्णय का स्वागत होगा। पुरस्कार समारोह इसी महीन के तीसरे सप्ताह में किया जायेगा।

मुकेश मानस
सदस्य, चयन समिति






No comments:

Post a Comment